रुद्रप्रयाग: कृषि विभाग द्वारा हुआ जिले के तीन गाॅवों का IMA के रूप में चयन, युवाओ के लिए खुलेंगें स्वरोजगार के नए अवसर

कृषि विभाग द्वारा रूद्रप्रयाग जिले के तीनों विकासखण्ड़ों के तीन गावों को आईएमए के लिए चयनित किया है। योजना में चयनित होने पर इन गांवों में तस्वीर बदलने वाली है। कृषि मंत्री सुबोध उनियाल की पहल पर जिले के तीन गाॅवों का IMA (Integrated Model Village) के रूप में चयन हुआ है, अब इन तीनों गांव में सभी विभाग अपनी सभी विकास योजनाओं से कार्य करायेगे और इन गांवों को माॅडल के रूप में अन्य गावों के सामने पेश किया जायेगा।

मुख्य कृषि अधिकारी रूद्रप्रयाग एस एस वर्मा ने जानकारी दी कि रूद्रप्रयाग जिले के जखोली विकासखण्ड़ के बजीरा न्याय पंचायत अन्र्तगत सकलाना गांव, अगस्त्यमुनि विकासखण्ड़ के उछाढुंगी न्याय पंचायत अन्र्तगत क्यूंजा गांव व ऊखीमठ विकासखण्ड़ के ऊखीमठ न्याय पंचायत अन्र्तगत सारी गांव का चयन आईएमए के लिए किया गया है। डीएम रूद्रप्रयाग के निर्देशन व सीडीओ रूद्रप्रयाग की अध्यक्षता में सभी मानकों को ध्यान मेे रखकर इन तीनों गांवों का चयन किया गया है। इससे इन तीनों गांवों के युवाओ के लिए स्वरोजगार के नए अवसर खुलेंगें।

चयनित गांवों के विकास के लिए कृषि विभाग को नोडल विभाग बनाया गया है, इन तीनों गांवो में कृषि विभाग के साथ ही उद्यान विभाग, पशुपालन विभाग, डेयरी विकास विभाग, मत्सय विभाग, रेशम विभाग, लघु सिंचाई और जड़ी बूटी विभाग मिलकर अपनी विकास योजनाओं से कार्य करायेंगे, तीनों गांवों में विकास योजनाओं के लिए डीपीआर तैयार की जायेगी और डीपीआर के अनुसार गांवों के विकास के लिए सरकार पैसें देगी। Read More

Leave a Comment